क्षमा क्यों करें?

मुक्त ebook डाउन लोडक्षमा के चार चरण

मुक्त ebook डाउनलोड

क्षमाआपकोमुक्तकरदेतीहै।

क्षमाकरनाआपकेलिएतथाआपकेआसपासकेसभीलोगोंकेलिएबहुतअधिकलाभदायकहोताहै।चाहेआपकोदूसरों कोक्षमाकरनेकीआवश्यकताहो, यास्वयंकोक्षमाकरनेकीजरुरतहो, ऐसाकरनेसेआपअपनेअतीतसेमुक्तहोहोतेहैंऔरअपनीअसलीक्षमताकोप्राप्तकरनेमेंसक्षमहो जातेहैं।क्षमाआपकोसीमितमान्यताओंएवंदृष्टिकोणकेबंधनसेमुक्तहोनेकीअनुमतिदेतीहै।यहआपकीमानसिकऔरभावनात्मकऊर्जाकोमुक्तकरदेतीहैताकिआपउनकाउपयोगएकबेहतरजीवनबनानेमेंकरसकें।

क्षमासबसेअधिकक्रियात्मकऔरतात्कालिकलक्ष्योंकोप्राप्तकरनेमेंभीआपकीसहायताकरतीहै।शायदआपएकअच्छीनौकरीचाहतेहों, ज्यादापैसेकमानाचाहतेहों, अच्छेसम्बन्धबनानाचाहतेहों, याकिसीअच्छेस्थानपररहनाचाहतेहों।क्षमायहसबप्राप्तकरनेमेंआपकीसहायताकरतीहै।यदिआपनेक्षमानहींकियाहैतबआपकीआंतरिकजीवनऊर्जाकाएकहिस्साअसंतोष, क्रोध, दर्द, याकिसीप्रकारकीपीड़ाकेजालमेंफंसारहताहै।यहफंसीहुईजीवनऊर्जाआपकोसीमितकरदेगी।यहउसीप्रकारहैजैसेआपपूरेसमयब्रेककोआंशिकरूपसेचालूकरकेसाइकिलचलानेकाप्रयासकररहेहों।इससेआपकीगतिकमहोजातीहै, आपनिराशहोजातेहैंऔरआगेबढ़नामुश्किलहोजाताहै।

आपजोभीनिर्णयलेतेहैंऔरजिनचीजोंपरभरोसाकरतेहैंसम्भवतःवोसभीआपकेक्षमानाकरनेपानेसेप्रभावितहोंगे।जबआपक्षमाकरनासीखजातेहैंतबजोऊर्जाअप्रसन्नविचारोंऔरभावनाओंपरव्ययहोरहीथीवोमुक्तहोजातीहैऔरआपकोसीमितकरनेयाऔरअधिककठिनाईलानेकेबजायआपकेजीवनकोबेहतरबनानेमेंलगसकतीहै।

यदिआपखुदकाभलाकरनेकेलिएक्षमाकरनानहींसीखनाचाहतेतबइसलिएक्षमाकरनासीखियेताकिआपदूसरोंकाभलाकरसकें।क्षमाकरनासीखकरआपअपनेसम्बन्धमेंआनेवालेप्रत्येकव्यक्तिकाभलाकरसकतेहैं।आपकीसोचपहलेसेकहींअधिकस्पष्ट औरसकारात्मकहोजाएगीदूसरोंकोदेनेकेलिएआपकेपासबहुतकुछहोगाऔरआपकेपासजोहैउसेबांटनेसेआपकोअपारख़ुशीकाअनुभवहोगा।आपआसानीसेऔरस्वाभाविकरूपसेअत्यधिकदयालु, उदारऔरदूसरोंकेलिएपरवाहकरनेवालेबनजायेंगेवोभीइनसभीकोप्राप्तकरनेकेलिएसंघर्षकियेबिना।आपकाअपनेजीवनमेंउपस्थितलोगोंकेप्रतिऔरअधिकख़ुशनुमाऔरसकारात्मकरवैयाहोगाऔरबदलेमेंवेऔरअधिकसकारात्मकताकेसाथइसकीप्रतिक्रियादेंगे।

क्याकिसीअक्षमाशीलव्यक्तिकेबजायक्षमाकरनेवालेव्यक्तिकेआसपासरहनाज्यादाआसानहै।हाँ, बिलकुल।अक्षमाशीलव्यक्तिकेबजायकिसीक्षमाशीलव्यक्तिकोअपनेसाथरखनाहमेशाआसानहोताहै।आपकेजीवनकीगुणवत्ताआपकेसंबंधोंकीगुणवत्तापरनिर्भरकरतीहै।क्षमाकरनासीखनेपरआपकेजीवनकाहरआयामअच्छेकेलिएपरिवर्तितहोगा; चाहेवोपरिवर्तनआपकेपरिवार, कार्यजीवनयाआपकेसामजिकजीवनमेंहो।क्षमाकरनासीखनाआपकेसभीरिश्तोंकोबेहतरबनादेताहैक्योंकिइससेआपकारवैयाबेहतरहोजाताहै।आपकेसम्बन्धअच्छेहोनेपरआपकेजीवनकाहरपहलूभीसुधरेगा।

यदिआपआर्थिकबहुलताऔरसफलताकेअगलेस्तरपरपहुँचनाचाहतेहैंतोइसेप्राप्तकरनेमेंक्षमाआपकीसहायताकरेगी।उदाहरणकेलिए, यदिआपअपनेजीवनमेंऔरअधिकधनचाहतेहैंतोआपकोयहध्यानरखनेकीजरुरतहोतीहैकिआपउनलोगोंकोक्रोधितनाकरेंजिनकेपासआपसेअधिकसंपत्तिहै।जिनलोगोंकेपासआपसेअधिकधनहैवोऔरअधिकधनप्राप्तकरनेमेंआपकीभीमददकरतेहैं।यदिआपधनवानलोगोंकोनाराज़करदेतेहैं, जैसाकिकुछलोगकरतेहैं, तबवेआपकीमददनहींकरपाएंगे, क्योंकिउनसेनाराज़रहनेमेंव्यस्तहोनेकेकारणआपउनकेप्रतितत्परनहींहोंगे।इसीप्रकार, यदिआपखुदसेअधिकसफललोगोंकेप्रतिसकारात्मकरवैयाअपनातेहैं(उनकोग़ुस्सैलनिगाहसेदेखनेकेबजायउनकोदेखकरमुस्कुरातेहैं) तबवेआपकोमिलनसारसमझेंगेऔरआपकेसाथऔरअधिककामकरनाचाहेंगे, याआपसेमेलजोलरखनाचाहेंगे।

यदिआपअच्छीनौकरी, तथाऔरअधिकधनअर्जितकरनाचाहतेहैंतबजहाँआपकामकरतेहैंउसस्थानकेप्रति, अपनेबॉस, सहकर्मियोंऔरग्राहकयाउपभोक्ताकेप्रतिसकारात्मकव्यवहाररखनाअत्यधिकसहायकहोताहै।वेलोगजोसकारात्मकऔरसहायकव्यवहाररखतेहैं, वोकिसीभीपरिस्थितिसेबाहरनिकलआतेहैं।आपउससंगठनमेंकभीसफलनहींहोसकतेजिसेआपसफलनहींहोनेदेनाचाहतेहैं, क्योंकिउसमेंआपअपनासर्वोत्तमनहींदेंगे।यदिआपजोकामकरसकतेहैं, उसमेंअपनासर्वोत्तमप्रयासनहींदेतेहैं, तबआपभीउससर्वोत्तमकोप्राप्तनहींकरपाएंगेजोआपकोमिलसकताहै।क्षमाआपकोऐसाव्यवहाररखपानेमेंसहायताकरतीहैजोआपकोअपनीनौकरीमेंबहुतअधिकसफलबनादेगा।

स्वयंकोक्षमाकरनासीखनाभीबहुतअधिकमहत्वपूर्णहै।स्वयंकोक्षमानाकरकेदुःखपहुँचानेसेअन्यलोगभीदुःखीहोतेहैं।यदिआपस्वयंकोक्षमानहींकरतेतबआपअपनेआपकोजीवनकीअच्छीचीजोंदूररखकेखुदकोसजादेंगे।आपस्वयंकोजितनाअधिकअस्वीकारकरतेहैंआपकेपासदेनेकेलिएउतनाहीकमरहजाताहै।आपकेपासदेनेकेलिएजितनाकमरहताहैआपअपनेआसपासकेलोगोंकाउतनाहीकमहितकरपातेहैं।आपकोजोमिलताहैजबआपउसेसीमितकरनाबंदकरदेतेहैंतबआपअन्यलोगोंकोभीबहुतकुछदेसकतेहैं।जबआपस्वयंकोक्षमाकरकेअपनेजीवनमेंअच्छीचीजोंकोआनेदेतेहैंतबसभीलोगोंकाभलाहोताहै, औरदेनेकेलिएआपकेपासबहुतकुछहोताहै।

जबआपक्षमाकरतेहैं; आपएकबेहतरजीवनसाथीबनजातेहैं, आपएकबेहतरछात्रयाशिक्षकबनजातेहैं, आपएकबेहतरमालिकयाकर्मचारीबनजातेहैंऔरआपबेहतरमातापितायासंतानबनजातेहैं।जबआपक्षमाकरतेहैंतबआपसार्थकतरीकोंसेऔरअधिकसफलबननेकेलिएतत्परहोजातेहैं।जबआपक्षमाकरनासीखजातेहैंतबनाकेवलअसंभवसंभवलगनेलगताहैबल्कियहआसानीसेप्राप्तहोनेवालाभीबनजाताहै।

यदिआपधार्मिकयाआध्यात्मिकप्रवृत्तिवालेव्यक्तिहैंतबक्षमाकरनेकेव्यावहारिकतरीकेसीखनाआपकेधार्मिकयाआध्यात्मिकअभ्यासकेअनुभवकोबढ़ादेगाऔरमजबूतबनादेगा।यहआपकोइसअपराधबोधकिआपउतनेअच्छेनहींहैंजितनाआपकोहोनाचाहिएसेमुक्तकरनेमेंआपकीसहायताकरेगा, क्योंकियहआपकोवैसाव्यक्तिबननेमेंसहायताकरेगाजैसाआपबननाचाहतेहैं।क्षमाकाअभ्यासकरनाआपकेअंदरकीअच्छाईकोमजबूतबनाताहैजोआपकेजीवनमेंऔरअधिकसक्रियहोजातीहै।आपस्वाभाविकरूपसेउनचीजोंसेदूरहोनेलगेंगेजिनकेबारेमेंआपकोपताहैकिआपकोयहनहींकरनीचाहिएलेकिनआपवोकरनेसेस्वयंकोरोकनहींपातेहै।आपउनचीजोंकोऔरअधिककरनाप्रारम्भकरदेंगेजिनकेबारेमेंआपकोपताहैकियहआपकोकरनीचाहिएलेकिनआपउन्हेंकरनेमेंसक्षमनहींहोपातेहैं।

क्षमाकरनासीखनाकेवलआपकीसहायताहीकरसकताहै; यहआपकोतकलीफनहींपहुँचासकता।

क्षमाअत्यधिकव्यावहारिकऔरउपयोगीहै।इसकेविषयमेंकुछभीअस्पष्ट, याअव्यावहारिकनहींहै।क्षमाआपकोमुक्तकरदेतीहै।क्षमाकरनासीखनेपरबहुतसीपरेशानियाँ(संभवतःस्वास्थ्यसमस्याएँभी) धीरेधीरेसमाप्तहोजातीहैं।क्षमाकरनासीखनेपरऐसाप्रतीतहोगाजैसेआपअपनेजीवनकोऊपरसेदेखरहेहैंऔरजहाँपहुँचनाचाहतेहैंवहाँपहुँचनेकासबसेसरलतरीकादेखसकतेहैं।जीवनआपकेसामनेप्रत्यक्षहोजाएगा।हरतरफसेनएअवसरप्राप्तहोनेलगेंगे।सहीसमयपरसहीव्यक्तिसेमिलनेपरअच्छेसंयोगघटितहोनेलगेंगे।जरुरतकेसमययोजनाएँऔरउत्तरअपनेआपआपकेपासआनेलगेंगी।

अपनेकिसीमित्रकीटिप्पणीसेयाकोईपुस्तकयापत्रिकाकेपन्नेपलटनेपरयाकिसीकीवार्तालापसुननेमात्रसेआपकोवोमिलजाएगाजिसकीआपतलाशकररहेथे।ऐसाक्योंहोताहै? ऐसाइसलिएहोताहैक्योंकिक्षमाकाअभ्यासकरनेसेआपअपनेजीवनकीअच्छाईकोस्वीकारकरनेलगतेहैंऔरइसलिएअच्छाईभीआपकीओरआनेकारास्ताढूंढनेमेंऔरअधिकसक्षमहोजातीहै।

क्षमाकरनासीखनेपरआपकेअंदरकीनिष्क्रियक्षमताएँभीउभरनेलगेंगी, औरआपस्वयंकोउससेकहींअधिकमजबूततथासक्षमपाएंगेजितनाआपपहलेकभीकल्पनाभीनहींकरसकतेथे।आपकेअंदरकावोहिस्साजोक्षमानाकरनेकीबंजरमिट्टीमेंपनपनहींपायाथा, विकसितहोनाशुरूहोजाएगा।आपसंघर्षतथाप्रयाससेमुक्तहोनाप्रारम्भकरदेंगे।आपकीजीवनगतिसुचारूहोजाएगीऔरजीवनपहलेसेबहुतअधिकसुखदऔरआनंददायकहोजाएगा।यदियहसबअतिशयोक्तिलगतीहैतोअभीइसेयहीलगनेदीजिये।आपकेवलक्षमाकेउनचारचरणोंकाअभ्यासकरियेजोआपकोइनपन्नोंकेभीतरमिलेंगेऔरआपकोबहुतख़ुशीहोगीकिआपनेयहकिया।

क्षमा के चार चरण

क्षमा के चार चरण वर्कशीट

चिंता, घबराहट और अवसाद

मुक्त ebook डाउनलोड. क्षमा के चार चरण

क्षमा के चार चरण ebook

क्षमा के चार चरण

 

क्षमा के चार चरण PDF

क्षमा के चार चरण KINDLE

क्षमा के चार चरण EPUB

क्षमा के चार चरण
स्वच्छंदता, प्रसन्नता एवं सफलता का प्रभावशाली तरीका।प्रयोग
विलियम फर्गस मार्टिन

ISBN: 978-1-942526-54-4

facebooktwitterlinkedinrssyoutube
Follow
facebooktwittergoogle_plusredditpinterestlinkedinmail
Share